निवेश
04 Nov 2021

सोने के वायदा(गोल्ड फ्यूचर्स) में निवेश करने से पहले क्या जानना चाहिए?

13025 दृश्य 4 MIN READ
man at laptop

सोने में निवेश परंपरागत रूप से एक साधारण लेनदेन रहा है जिसमें सोने को अपने पास रखना शामिल है। लेकिन समय के साथ, बाजार के विकास ने सोने में निवेश करने के नए तरीके लाए हैं। एक माध्यम जिससे इसका कारोबार किया जा सकता है, वह है सोने का वायदा, जो सोने के बाजार को वायदा कारोबार के सिद्धांतों के साथ जोड़ता है। 

यदि आप सोने के वायदा कारोबार में निवेश करना चाह रहे हैं, तो कुछ आसान लेकिन महत्वपूर्ण सवालों के जवाब जानना आवश्यक है।

सोने का वायदा कारोबार कैसे होता है?

भारत में सोने का वायदा कारोबार BSE, NSE और MCX (मल्टी कॉमोडिटी एक्सचेंज) के माध्यम से एक ग्राम से लेकर एक किलो तक के विभिन्न आकारों के ऑर्डर में किया जा सकता है। खरीदार अनुबंध में निर्दिष्ट मूल्य के लिए भविष्य की तारीख में सोना खरीदने या बेचने के लिए एक समझौते के साथ एक निश्चित अवधि के अनुबंध में प्रवेश करता है। हालांकि अनुबंध में एक निश्चित मात्रा में सोने का उल्लेख हो सकता है, लेकिन आपको पूरी राशि को अग्रिम रूप से निवेश करने की आवश्यकता नहीं होती। इसके बजाए, आप कुल मूल्य का एक छोटा प्रतिशत रख सकते हैं, जिसे "मार्जिन" के रूप में जाना जाता है।

अन्य निवेशों की तरह, आप सोने के वायदा अनुबंध के माध्यम से या तो लाभ प्राप्त कर सकते हैं या आपको हानि हो सकती है, यह इस बात पर निर्भर करता है कि अनुबंध अवधि के दौरान सोने की कीमत बढ़ती है या घटती है। मूल्य में परिवर्तन (ऊपर और नीचे दोनों) को टिक्स में मापा जाता है, जो कि बाजारों द्वारा मापा जाने वाला सबसे छोटा मूल्य परिवर्तन होता है। उदाहरण के लिए, MCX के सोने के वायदा अनुबंध में, टिक का आकार 0.10 (या 1 रुपए प्रति 10 ग्राम) होता है। इस प्रकार, यदि आपके पास 1 किलो (1000 ग्राम) का लॉट साइज है, तो आपका लाभ या हानि 100 रुपए प्रति टिक होगा। आप अनुबंध अवधि के दौरान सोने की कीमतों में उतार-चढ़ाव से लाभ उठा सकते हैं या अनुबंध अवधि के अंत में भौतिक रूप से सोने की डिलीवरी का विकल्प चुन सकते हैं।

आपके लक्ष्यों के अनुरूप क्या होगा - दीर्घकालिक या अल्पकालिक अनुबंध?

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि सोने का वायदा अनुबंध मूल्य में उतार-चढ़ाव से बचाव प्रदान करते हैं और सट्टा लाभ अर्जित करने का अवसर प्रदान करते हैं। सोने के आयात, निर्यात, निर्माण या व्यापार में संलग्न व्यवसाय इस जोखिम को कम करने और कम समय में संभावित नुकसान की भरपाई के लिए सोने के वायदा अनुबंध का उपयोग कर सकते हैं। 

साधारण निवेशक भी लाभ कमाने के लिए टिक मूवमेंट का उपयोग कर सकते हैं। हालांकि अधिकांश निवेशक सोने के वायदा को कम समय के हेजिंग के रूप में उपयोग करते हैं, भविष्य में सोने की कीमतों में वृद्धि को भुनाने के इच्छुक निवेशक अपने अनुबंध को एक वर्ष तक की लंबी अवधि के लिए भी निर्धारित कर सकते हैं।

आप किस प्रकार का विश्लेषण और निवेश करने की योजना बना रहे हैं?

सोना वायदा निवेशक अपने निवेश के लिए मौलिक, तकनीकी या दोनों ही दृष्टिकोण का उपयोग कर सकते हैं। मौलिक विश्लेषण सोने की मांग-आपूर्ति की गतिशीलता, वर्तमान स्थिति और बाजार की भावना के साथ-साथ आर्थिक चक्र पर भी विचार करता है। तकनीकी विश्लेषण अधिक वैज्ञानिक दृष्टिकोण पर निर्भर करता है, मूल्य निर्धारण चार्ट, संकेतक और उपकरण जैसे फिबोनिकी एक्सटेंशन और मोमेंटम ऑसिलेटर्स की मदद लेता है। मौलिक दृष्टिकोण परिसंपत्ति के वास्तविक मूल्य को समझना चाहते हैं, जबकि तकनीकी विश्लेषण भविष्य के मूल्य को समझना चाहता है। सोने के वायदा निवेशकों को दोनों दृष्टिकोणों के तहत काम करने से लाभ होगा।   

क्या आप सोने के वायदा कारोबार पर बाजार के रुझान के प्रभाव को समझते हैं? 

सोने के बाजार को समझना एक व्यापक अभिव्यक्ति है जिसमें वह सब कुछ शामिल है जो सोने की कीमत को प्रभावित करता है। एक सोने के वायदा निवेशक के रूप में, आपको अमेरिकी डॉलर के मूल्य, बॉन्ड की कीमत, सरकार की ब्याज दर नीति और सोने की कीमत को प्रभावित करने वाले प्रमुख आर्थिक निर्णयों पर नजर रखनी होगी। शादी का समय और कृषि पैटर्न के शुरु होने से भी भारत में सोने की कीमत प्रभावित हो सकती है। केंद्रीय बैंक द्वारा सोने का भारी मात्रा में व्यापार एक अन्य कारक है जो सोने के बाजार को प्रभावित कर सकता है। 

आप किस प्रकार की ट्रेडिंग योजना का पालन करने का मन बना रहे हैं? 

इक्विटी निवेश की तरह, आपको तेजी या मंदी की स्थिति की समझ विकसित करनी होगी और उसके अनुसार अपनी निवेश योजना बनानी होगी। इसके अलावा, आपकी परिचालन शैली भी आपकी निवेश योजना को परिभाषित करेगी। आप ऐसे निवेशक हो सकते हैं जो एक सत्र के दौरान कई बार प्रवेश करता है और बाहर निकलता है। डे ट्रेडिंग ऐसी शैली है जिसमें लोग कम काम करते हैं जहां आप एक दिन की कीमत में उतार चढ़ाव का आकलन करते हैं। एक पोजिशन ट्रेडर उतार-चढ़ाव के बजाए ट्रेंड पर ध्यान देगा, जिसके परिणामस्वरूप ट्रेडिंग बहुत कम होगा। आपकी स्थिति से कोई फर्क नहीं पड़ता, सुनिश्चित करें कि आप इसे करने से पहले इसे समझते हैं, और आप इसी ट्रेडिंग योजना के साथ बने रहते हैं।

सोने के वायदा कारोबार में निवेश एक लाभदायक विकल्प हो सकता है, बशर्ते आपको अनुबंध की पूरी समझ हो और आपके पास निवेश की एक विस्तृत योजना हो। इससे पहले कि आप सोने के वायदा कारोबार में कोई निवेश करें, यह महत्वपूर्ण है कि आप अपने लिए इन सवालों का जवाब ढूंढ लें ताकि आप सब कुछ समझ सकें।

Was this article helpful
12 Votes with an average with -0.3

Thank you for your feedback. We'd love to hear from you how we can improve more. Please login to give a detailed feedback.

Thank you for your feedback. We'd love to hear from you how we can improve more. Please login to give a detailed feedback.

छिपी हुई कहानियां