प्रीवियस आर्टिकल

2009 की वैश्विक मंदी के समय सोने ने किया बचाव

8 मिनट पढ़ें

निवेश
23 Apr 2019

जानिए कैसे किश्तों में कर सकते हैं सोने में निवेश

143 दृश्य 3 MIN READ
Gold Investment options in India

स्वर्ण बचत योजनाओं ने ना सिर्फ सोने की खरीद को सरल बनाया है बल्कि सुविधाजनक भी कर दिया है। देश भर के प्रमुख सुनार इसकी पेशकश करते हैं। इन योजनाओं के माध्यम से आप सोना खरीदने पर एक निर्धारित अवधि तक भुगतान कर सकते हैं, ठीक वैसे ही जैसे आप अपनी ईएमआई भरते हैं। किश्तों की राशि और अवधि हर योजना पर निर्भर करती है।

यह कैसे काम करता है

  • इनमें से अधिकतर योजनाओं में, पहले आपको उस सुनार के साथ एक खाता खोलना पड़ता है। फिर, उस सुनार के पास उपलब्ध विकल्पों के अनुसार, आपको एक निर्दिष्ट अवधि तक, एक निर्दिष्ट राशि हर महीने खाते में जमा करनी होती है। उस अवधि के अंत में, आपको सुनार से एक बोनस मिलेगा, जो कि एक या दो किश्तों की राशि के समान होता है। हालाँकि यह सुनार की योजना पर निर्भर करता है। अंत में, योजना की पूर्णता पर, सोने की मौजूदा कीमत के अनुसार आप अपनी जमा की गयी राशि (और सुनार द्वारा आपके खाते में दी गयी राशि) के कुल मूल्य के बराबर सोने के गहने ले सकते हैं। इसे कहते हैं मूल्य-आधारित भुगतान प्रणाली (वैल्यू-बेज़्ड पेमेंट सिस्टम।
  • इसी योजना का एक और प्रारूप है जिसमें आप एक निर्दिष्ट मात्रा का सोना (मौजूदा दर पर) अपने खातेमें हर महीने जमा कर सकते हैं। निर्धारित अवधि के अंत में, आप अब तक जमा की गयी कुल मात्रा के सोने को गहनों या सिक्कों के रूप में रिडीम कर सकते हैं। इसे वजन-आधारित भुगतान प्रणाली (वेट-बेज़्ड पेमेंट सिस्टम) कहते हैं। यह एक प्रकार का आवर्ती जमा खाता (रेकरिंग डिपॉज़िट अकाउंट) है जिससे आपके पैसे बच सकते हैं।

बचत योजना के तहत सोना खरीदने के लाभ

  • कई बार हम अपने बजट के कारण सोने के गहने खरीदने से कतरा जाते हैं। इस योजना के तहत आप अपनी खरीद को पहले से सुनियोजित कर सकते हैं और एक साथ एकमुश्त भुगतान करने के बजाय एक तय अवधि में इकट्ठा कर सकते हैं।
  • कई सुनार स्वर्ण बचत योजना के तहत खरीदे गये गहने पर मजूरी पर अच्छी-खासी छूट भी देते हैं।
  • कई योजनाओं में आप गहनों की रख-रखाव सेवाएँ भी पा सकते हैं। इसलिए, इन योजनाओं में निवेश करते समय आप मुफ्त आजीवन रख-रखाव, बाय-बैक गारंटी, और एक तय अवधि के लिए मुफ्त बीमे की उम्मीद कर सकते हैं।

किन बातों का ध्यान रखें

  • इस योजना के तहत सोने के गहने खरीदने पर कुछ सीमाएँ हो सकती हैं। जैसे, कुछ योजनाओं में आप सिर्फ वही गहने खरीद सकते हैं जिन्हें रीसाइज़िंग की ज़रूरत ना हो। इस सारे विवरण की अपने सुनार से जाँच लें।
  • आप उस अवधि के अंत में कुल नकद राशि रिडीम नहीं कर सकते; आपको सोना ही खरीदना पड़ेगा।

हालाँकि सोना खरीदना आपके बजट पर कुछ भार डाल सकता है, लेकिन नियमित रूप से एक छोटी राशि निवेश के तौर पर डालना सुविधाजनक होता है। इससे आप अपनी मर्ज़ी और सुविधा के अनुसार पसंदीदा गहने खरीदने के लिए सक्षम हो सकते हैं। उपलब्ध विकल्प देखने के बाद, आप अपनी सुविधा के अनुसार श्रेष्ठ योजना चुनें और मनपसंद गहने खरीदने के लिए जमा करना शुरु करें।

Was this article helpful
9 Votes with an average with -0.1

Thank you for your feedback. We'd love to hear from you how we can improve more. Please login to give a detailed feedback.

Thank you for your feedback. We'd love to hear from you how we can improve more. Please login to give a detailed feedback.

छिपी हुई कहानियां